Google search engine
Homeराजनीतिकांग्रेस को एक और झटका, पुरी सीट से कांग्रेस प्रत्याशी सुचारिता मोहंती...

कांग्रेस को एक और झटका, पुरी सीट से कांग्रेस प्रत्याशी सुचारिता मोहंती नहीं लड़ेंगी चुनाव

कांग्रेस को एक और झटका, पुरी सीट से कांग्रेस प्रत्याशी सुचारिता मोहंती नहीं लड़ेंगी चुनाव

कांग्रेस को एक और झटका, पुरी सीट से कांग्रेस प्रत्याशी सुचारिता मोहंती नहीं लड़ेंगी चुनाव

गुजरात की सूरत और मध्य प्रदेश की इंदौर सीट के बाद कांग्रेस को एक और करारा झटका लगा है। पुरी सीट से कांग्रेस की प्रत्याशी सुचारिता मोहंती ने फंड की कमी का हवाला देकर चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। उन्होंने कांग्रेस से अपनी उम्मीदवारी वापस ले ली है। बता दें कि ओडिशा की पुरी सीट हॉटसीट में से एक है। यहां भाजपा के दिग्गज नेता संबित पात्रा मैदान में हैं। बता दें कि कांग्रेस प्रत्याशी के नाम वापस लेने के बाद संबित पात्रा के लिए रास्ता आसान हो गया है। साथ ही उन्होने पुरी लोकसभा के अंतर्गत आने वाली विधानसभा सीट पर कमजोर उम्मीदवार उतारने का आरोप लगाया है। बता दें कि इससे पहले सूरत सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी रहे नीलेश कुम्भणी का नामांकन ही रद्द हो गया था। इसके अलावा अन्य प्रत्याशियों ने अपना नामांकन वापस ले लिया। इस तरह भाजपा के मुकेश कुमार चुनाव होने से पहले ही निर्विरोध जीत गए। वहीं इंदौर लोकसभा सीट का मामला हाई कोर्ट पहुंच गया है। यहां से कांग्रेस ने अक्षय बम को उम्मीदवार बनाया था। बाद में उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया। अब इंदौर सीट पर भी कांग्रेस का कोई उम्मीदवार नहीं है।

पुरी सीट से कांग्रेस का टिकट लौटाने वाली मोहंती ने बताया कि उनको पार्टी की तरफ से फंड नहीं मिल रहा है। ऐसे में पैसे की कमी के चलते वह चुनाव लड़ने में सक्षम नहीं हैं। सुचारिता ने कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल को पत्र लिखा था। उन्होंने पत्र में कहा कि पार्टी की तरफ से राशि ना मिलने की वजह से वह चुनाव प्रचार भी नहीं कर पा रही हैं। बता दें कि 25 मई को छठे चरण में पुरी सीट पर मतदान होना है।

क्या संबित पात्रा की राह आसान होगी?

कांग्रेस उम्मीदवार के मैदान से हटने से संबित पात्रा ही नहीं बीजद उम्मीदवार को भी फायदा हो सकता है। बीजद उम्मीदवार ने पिछली बार बाजी मार ली थी। सुचरिता महांति 2014 में पुरी संसदीय क्षेत्र चुनाव लड़ चुकी हैं। 2014 में वह दुसरे नंबर थी और उन्हें 2 लाख 59 हजार 800 वोट मिला था। अब इनके हटने से कहीं न कहीं संबित पात्रा और बीजद दोनों की तरफ वोट शिफ्ट होगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments