Reasi Terrorist Attack: जम्मू-कश्मीर में फिर दिखी पाकिस्तान की बुजदिली, तीर्थयात्रियों पर कराया आतंकवादी हमला

Reasi Terrorist Attack: जम्मू-कश्मीर में फिर दिखी पाकिस्तान की बुजदिली, तीर्थयात्रियों पर कराया आतंकवादी हमला
Reasi Terrorist Attack: जम्मू-कश्मीर में फिर दिखी पाकिस्तान की बुजदिली, तीर्थयात्रियों पर कराया आतंकवादी हमला

जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में रविवार शाम को तीर्थयात्रियों को ले जा रही एक बस पर सशस्त्र आतंकवादियों द्वारा की गई गोलीबारी में एक बच्चे सहित नौ लोगों की मौत हो गई और 33 अन्य घायल हो गए। रियासी की वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) मोहिता शर्मा ने बताया, “आज आतंकवादियों के एक समूह ने रियासी जिले के रनसू इलाके से आ रही एक यात्री बस पर हमला किया। हमले के कारण बस के चालक ने नियंत्रण खो दिया और बस पौनी के कांडा इलाके के पास एक गहरी खाई में गिर गई। दुर्घटना के कारण नौ लोगों की मौत हो गई और 33 अन्य घायल हो गए।”

उन्होंने कहा, “यह स्पष्ट रूप से आतंकी हमले का मामला है। इलाके की तलाशी ली गई है और तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया है।” उन्होंने आगे बताया कि बचाव अभियान जल्द से जल्द पूरा कर लिया गया है और घायलों को निकटवर्ती अस्पतालों में भेज दिया गया है। एसएसपी ने कहा, “मृतकों और घायलों की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है, लेकिन संभवत: वे उत्तर प्रदेश के थे।”

पुलिस ने बताया कि बस शिवखोरी गुफा मंदिर से तीर्थयात्रियों को लेकर रियासी जिले के कटरा जा रही थी और राजौरी जिले की सीमा से लगे रियासी जिले के पौनी क्षेत्र के तेरयाथ गांव में शाम करीब 6.10 बजे उन पर हमला हुआ।

पुलिस द्वारा जारी एक बयान में कहा गया, “”चालक को टक्कर लगी और उसने नियंत्रण खो दिया, जिसके परिणामस्वरूप बस पास की खाई में फिसल गई। स्थानीय ग्रामीणों की मदद से, पुलिस ने रात 8.10 बजे तक सभी यात्रियों को बाहर निकाल लिया। एसपी रियासी ने निकासी की निगरानी की। घायलों को अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

इसमें कहा गया है कि घटनास्थल पर पुलिस, सेना और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) द्वारा एक संयुक्त सुरक्षा बल अस्थायी अभियान स्थापित किया गया है और हमलावरों तक पहुंचने के लिए एक बहुआयामी अभियान शुरू किया गया है।

किसने कराया हमला

जम्मू-कश्मीर के रियासी में हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन TRF यानी द रेजिस्टेंस फ्रंट ने ली है। टीआरएफ ने सोशल मीडिया पर पोस्ट के जरिए हमले की जिम्मेदारी ली है। रियासी आतंकी हमले