Google search engine
Homeज्योतिषआखिर टखने में क्यों बाँधा जाता है काला धागा, जाने रहस्य

आखिर टखने में क्यों बाँधा जाता है काला धागा, जाने रहस्य

टखने में काला धागा बांधना भले ही छोटी बात लगती हो, लेकिन ज्योतिष और प्राचीन मान्यताओं में इसका बहुत बड़ा अर्थ है। लोगों का मानना है कि यह उन्हें ब्रह्मांड की ऊर्जाओं से जुड़ने में मदद करता है और बुरी चीजों से बचाता है।

आइए आसान शब्दों में समझते हैं कि टखने पर काला धागा बांधना क्यों जरूरी है।

  • ज्योतिष शास्त्र में ग्रहों में विशेष शक्तियां होती हैं जो हमारे जीवन को प्रभावित करती हैं। जब आपका जन्म होता है, तो ग्रहों की स्थिति आपके भविष्य को प्रभावित कर सकती है। ऐसा माना जाता है कि अपने टखने के चारों ओर काला धागा बांधने से आपको इन ग्रहों की ऊर्जाओं से बेहतर तरीके से जुड़ने में मदद मिलती है। यह बुरी चीज़ों के ख़िलाफ़ ढाल बनाने और अपनी आत्मा और शरीर को स्वस्थ रखने जैसा है।
  • इसमें एक महत्वपूर्ण ग्रह है शनि. यह कठिन समय और चुनौतियाँ लाने के लिए जाना जाता है। काला धागा बांधने से शनि का प्रभाव शांत हो सकता है और आपको कठिनाइयों से बेहतर तरीके से निपटने में मदद मिल सकती है। यह एक ऐसे दोस्त के होने जैसा है जो कठिन परिस्थितियों में आपका साथ देता है।
  • काले को अक्सर एक ऐसे रंग के रूप में देखा जाता है जो बुरी चीजों को दूर रखता है। माना जाता है कि काला धागा बांधने से नकारात्मक ऊर्जा और आत्माएं दूर रहती हैं जो आपको नुकसान पहुंचा सकती हैं। यह हर समय आपके चारों ओर एक सुरक्षा कवच होने जैसा है, जो आपको नुकसान से सुरक्षित रखता है।
  • आपका टखना आपके शरीर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है जो आपको संतुलित रहने में मदद करता है। अपने टखने के चारों ओर एक काला धागा पहनकर, आप अधिक ज़मीनी और स्थिर महसूस कर सकते हैं। यह पृथ्वी की ऊर्जा से जुड़ाव महसूस करने जैसा है, जो जीवन में उतार-चढ़ाव आने पर भी आपको मजबूत बने रहने में मदद करती है।
  • विभिन्न संस्कृतियों और धर्मों में काला धागा पहनने को अलग-अलग तरीके से देखा जाता है। लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, इसे हमेशा कुछ शक्तिशाली और सार्थक के रूप में देखा जाता है। यह दर्शाता है कि आप अपने से भी बड़ी किसी चीज़ में विश्वास करते हैं और आप उच्च शक्तियों द्वारा संरक्षित हैं।
  • अपने टखने के चारों ओर काला धागा बांधना सिर्फ फैशन के बारे में नहीं है। यह ब्रह्मांड से जुड़ने और खुद को बुरी चीजों से बचाने का एक तरीका है। यह आपको मजबूत और संतुलित रहने में मदद करता है, तब भी जब जीवन कठिन हो जाता है। तो, अगली बार जब आप किसी को अपने टखने के चारों ओर काला धागा बंधे हुए देखें, तो याद रखें कि यह सिर्फ डोरी के एक टुकड़े से कहीं अधिक है – यह ताकत, सुरक्षा और किसी बड़ी चीज़ से जुड़ाव का प्रतीक है।
DigiKhabar
DigiKhabarhttps://digikhabar.in
DigiKhabar.in हिंदी ख़बरों का प्रामाणिक एवं विश्वसनीय माध्यम है जिसका ध्येय है "केवलं सत्यम" मतलब केवल सच सच्चाई से समझौता न करना ही हमारा मंत्र है और निष्पक्ष पत्रकारिता हमारा उद्देश्य.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments