राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी के मृत्यु के बाद भारत ने एक दिवसीय राजकीय शोक की कि घोषणा

राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी के मृत्यु के बाद भारत ने एक दिवसीय राजकीय शोक की कि घोषणा
राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी के मृत्यु के बाद भारत ने एक दिवसीय राजकीय शोक की कि घोषणा

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने घोषणा की कि भारत ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी के सम्मान में मंगलवार (21 मई) को एक दिवसीय राजकीय शोक मनाएगा, जिनका एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में निधन हो गया।

पूरे देश में सभी सरकारी इमारतों पर राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा जहां इसे नियमित रूप से फहराया जाता है और इस दौरान कोई आधिकारिक मनोरंजन नहीं होगा।

गृह मंत्रालय ने कहा कि, “दिवंगत गणमान्य व्यक्तियों के सम्मान में, भारत सरकार ने फैसला किया है कि 21 मई मंगलवार को पूरे भारत में एक दिन का राजकीय शोक रहेगा।”

बयान में आगे कहा गया कि, “शोक के दिन, पूरे भारत में उन सभी इमारतों पर राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा जहां राष्ट्रीय ध्वज नियमित रूप से फहराया जाता है और उस दिन कोई आधिकारिक मनोरंजन नहीं होगा।”

इससे पहले भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ईरानी राष्ट्रपति के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया. उन्होंने अपने आधिकारिक एक्स हैंडल पर लिखा कि, “इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ ईरान के राष्ट्रपति डॉ. सैयद इब्राहिम रायसी के दुखद निधन से बहुत दुखी और स्तब्ध हूं। भारत-ईरान द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने में उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा।” उनके परिवार और ईरान के लोगों के प्रति संवेदना। दुख की इस घड़ी में भारत ईरान के साथ खड़ा है।”

स्थानीय मेहर समाचार एजेंसी ने कहा, “इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ ईरान के राष्ट्रपति अयातुल्ला इब्राहिम रायसी, ईरान के लोगों की सेवा और उनके लिए अपना कर्तव्य निभाते समय एक दुर्घटना का शिकार हो गए और शहीद हो गए।”

रिपोर्ट के अनुसार, रायसी को ले जा रहा हेलीकॉप्टर खराब मौसम में उड़ान भरते समय पूर्वी अजरबैजान प्रांत के जोल्फा क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

आधिकारिक आईआरएनए समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, यह दुर्घटना वरज़ाघन शहर के पास डिज़मार के पहाड़ी संरक्षित वन क्षेत्र में हुई है।