Google search engine
Homeमनोरंजन69वां राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार 2023 - विजेताओं की सूची

69वां राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार 2023 – विजेताओं की सूची

69वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के विजेताओं की घोषणा नई दिल्ली के नेशनल मीडिया सेंटर में की गई। 69वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का केंद्र बिंदु रहा, जिसमें प्रतिभाशाली विजेताओं का एक समूह सामने आया, जिन्होंने भारत के सिनेमाई परिदृश्य पर एक अमिट छाप छोड़ी है। इन पुरस्कारों को फिल्म निर्माण के क्षेत्र में सर्वोच्च सम्मानों में से एक के रूप में मान्यता प्राप्त है, जो देश की समृद्ध सिनेमाई टेपेस्ट्री में योगदान करने वाले व्यक्तियों के समर्पण और रचनात्मकता के प्रमाण के रूप में कार्य करते हैं।

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार 2023 विजेता

एक शानदार समारोह में 69वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के विजेताओं की घोषणा की गई। अल्लू अर्जुन को फिल्म पुष्पा के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार दिया गया, जबकि सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार क्रमशः आलिया भट्ट और कृति सनोन को उनकी फिल्मों गंगूबाई काठियावाडिया और मिमी के लिए प्रदान किया गया। सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म का पुरस्कार द नांबी इफेक्ट को प्रदान किया गया। द कश्मीर फाइल्स ने राष्ट्रीय एकता पर सर्वश्रेष्ठ फिल्म के लिए नरगिस दत्त पुरस्कार जीता।

69th National Film Awards 2023 Complete Winners List

CategoryWinner
Best Feature FilmRocketry
Best DirectorNikhil Mahajan, Godavari
Best Popular Film Providing Wholesome EntertainmentRRR
Nargis Dutt Award for Best Film on National IntegrationThe Kashmir Files
Best ActorAllu Arjun, Pushpa
Best ActressAlia Bhatt, Gangubai Kathiawadi and Kriti Sanon, Mimi
Best Supporting ActorPankaj Tripathi, Mimi
Best Supporting ActressPallavi Joshi, The Kashmir Files
Best Child ArtistBhavin Rabari, Chhello Show
Best Screenplay (Original)Shahi Kabir, Nayattu
Best Screenplay (Adapted)Sanjay Leela Bhansali & Utkarshini Vashishtha, Gangubai Kathiawadi
Best Dialogue WriterUtkarshini Vashishtha & Prakash Kapadia, Gangubai Kathiawadi
Best Music Director (Songs)Devi Sri Prasad, Pushpa
Best Music Direction (Background Music)MM Keeravaani, RRR
Best Male Playback SingerKaala Bhairava, RRR
Best Female Playback SingerShreya Ghoshal, Iravin Nizhal
Best LyricsChandrabose, Konda Polam’s Dham Dham Dham
Best Hindi FilmSardar Udham
Best Kannada Film777 Charlie
Best Malayalam FilmHome
Best Gujarati FilmChhello Show
Best Tamil FilmKadaisi Vivasayi
Best Telugu FilmUppena
Best Maithili FilmSamanantar
Best Mishing FilmBoomba Ride
Best Marathi FilmEkda Kaay Zala
Best Bengali FilmKalkokkho
Best Assamese FilmAnur
Best Meiteilon FilmEikhoigi Yum
Best Odia FilmPratikshya
Indira Gandhi Award for Best Debut Film of a DirectorMeppadiyan, Vishnu Mohan
Best Film on Social IssuesAnunaad – The Resonance
Best Film on Environment Conservation/PreservationAavasavyuham
Best Children’s FilmGandhi and Co
Best Audiography (Location Sound Recordist)Arun Asok & Sonu K P, Chavittu
Best Audiography (Sound Designer)Aneesh Basu, Jhilli
Best Audiography (Re-recordist of the final mixed track)Sinoy Joseph, Sardar Udham
Best ChoreographyPrem Rakshith, RRR
Best CinematographyAvik Mukhopadhayay, Sardar Udham
Best Costume DesignerVeera Kapur Ee, Sardar Udham
Best Special EffectsSrinivas Mohan, RRR
Best Production DesignDmitrii Malich and Mansi Dhruv Mehta, Sardar Udham
Best EditingSanjay Leela Bhansali, Gangubai Kathiawadi
Best MakeupPreetisheel Singh, Gangubai Kathiawadi
Best Stunt ChoreographyKing Soloman, RRR
Special Jury AwardShershaah, Vishnuvardhan
Special Mention1. Late Shri Nallandi, Kadaisi Vivasayi 2. Aranya Gupta & Bithan Biswas, Jhilli 3. Indrans, Home 4. Jahanara Begum, Anur
Best Non-feature filmEk Tha Gaon
Best Direction (Non-feature film)Bakul Matiyani, Smile Please
Best Debut Non-Feature Film of a DirectorPaanchika, Ankit Kothari
Best Anthropological FilmFire on Edge
Best Biographical FilmRukhu Matir Dukhu Majhi and Beyond Blast
Best Arts FilmsT.N. Krishnan Bow Strings to Divine
Best Science & Technology FilmsEthos of Darkness
Best Promotional FilmEndangered Heritage ‘Warli Art’
Best Environment Film (Non-feature film)Munnam Valavu
Best Film on Social Issues (Non-feature film)Mithu Di and Three Two One
Best Investigative FilmLooking For Challan
Best Exploration FilmAyushman
Best Educational FilmSirpigalin Sirpangal
Best Short Fiction FilmDal Bhat
Best Animation FilmKandittundu
Best Film on Family ValuesChand Saanse
Best Cinematography (Non-feature film)Bittu Rawat, Pataal
Best Audiography (Re-recordist of the final mixed track) (Non-feature film)Unni krishnan, Ek Tha Gaon
Best Production Sound Recordist (Location/Sync Sound) (Non-feature film)Suruchi Sharma, Meen Raag
Best Editing (Non-feature film)Abhro Banerjee, If Memory Serves Me Right
Best Music Direction (Non-feature film)Ishaan Divecha, Succelent
Best Narration/Voice Over (Non-feature film)Kulada Kumar Bhattacharjee, Hathibondhu
Special Mention (Non-feature film)1. Aniruddha Jatkar, Baale Bangara, 2. Srikanth Deva, Karuvarai, 3. Sweta Kumar Das, The Healing Touch, 4. Ram Kamal Mukherjee, Ek Duaa
Special Jury Award (Non-feature film)Shekhar Bapu Rankhambe, Rekha
Best Book on CinemaMusic by Laxmikant Pyarelal: The Incredibly Melodious Journey by Rajiv Vijayakar
Best Film CriticPurushothama Charyulu
Best Film Critic (Special Mention)Subramanya Bandoor

राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार

प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार, भारतीय सिनेमा की धारा में सम्मान के प्रतीक के रूप में खड़े हैं। राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का आयोजन केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय के तहत फिल्म महोत्सव निदेशालय द्वारा किया जाता है। वे उन फिल्मों का जश्न मनाते हैं जो न केवल सौंदर्य और तकनीकी उत्कृष्टता प्रदर्शित करती हैं बल्कि सामाजिक प्रासंगिकता भी प्रदर्शित करती हैं, जो कला और प्रभाव दोनों के माध्यम के रूप में सिनेमा की शक्ति को दर्शाती हैं।

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का इतिहास

राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कारों की शुरुआत 1954 में “राज्य पुरस्कार” के नाम से की गई थी। उस समय, विभिन्न क्षेत्रीय भाषाओं की सर्वश्रेष्ठ फिल्मों को ही नामांकित और पुरस्कृत किया जाता था। 1967 में इसने फिल्मों में काम करने वाले अभिनेताओं और तकनीशियनों को पुरस्कार देना शुरू किया। सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार जीतने वाले पहले अभिनेता नरगिस रात और दिन में अपने प्रदर्शन के लिए थे, जबकि उत्तम कुमार ने एंटनी फ़िरंगी और चिड़ियाखाना के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार जीता।

1953 में फ़िल्मों के लिए दिए गए पहले पुरस्कारों के बाद से, राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कारों ने एक लंबा सफर तय किया है। पिछले कुछ वर्षों में पुरस्कारों की संख्या में वृद्धि हुई है। प्रारंभ में इसे ‘राज्य पुरस्कार’ कहा जाता था, जिसमें दो राष्ट्रपति के स्वर्ण पदक, दो योग्यता प्रमाण पत्र और एक दर्जन क्षेत्रीय फिल्मों के लिए रजत पदक शामिल थे, पहले छह वर्षों तक राष्ट्रीय सर्वश्रेष्ठ फिल्म को ही क्षेत्रीय सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार देने की प्रथा थी। पिछले कुछ वर्षों में पुरस्कारों की संख्या में वृद्धि हुई है।

1967 की फिल्मों के लिए 1968 में कलाकारों और तकनीशियनों के लिए अलग-अलग पुरस्कार शुरू किए गए थे, नरगिस दत्त और उत्तम कुमार क्रमशः सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (तब उर्वशी कहलाती थी) और सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (तब भारत कहा जाता था) पुरस्कार पाने वाले पहले अभिनेत्री और अभिनेता थे।

पुरस्कार तीन वर्गों में दिए जाते हैं: फीचर, गैर-फीचर और सिनेमा पर सर्वश्रेष्ठ लेखन।

जबकि फीचर और गैर-फीचर में विजेताओं का चयन विभिन्न श्रेणियों में सिनेमाई उपलब्धियों में उत्कृष्टता की मान्यता है, ‘सिनेमा पर सर्वश्रेष्ठ लेखन’ अनुभाग एक कला के रूप में सिनेमा के अध्ययन और सराहना और सूचना के प्रसार और आलोचनात्मक सराहना को प्रोत्साहित करने पर केंद्रित है। विभिन्न पुस्तकों, लेखों, समीक्षाओं, समाचार पत्रों के कवरेज और अध्ययनों के प्रकाशन के माध्यम से कला का विकास।

पुरस्कारों का उद्देश्य सिनेमाई रूप में देश के विभिन्न क्षेत्रों की संस्कृतियों की समझ और सराहना में योगदान देने वाली सौंदर्य और तकनीकी उत्कृष्टता और सामाजिक प्रासंगिकता वाली फिल्मों के निर्माण को प्रोत्साहित करना है, जिससे राष्ट्र की एकता और अखंडता को भी बढ़ावा मिलता है। पुरस्कारों के विजेताओं का निर्णय जूरी द्वारा किया जाता है जिसमें सिनेमा, अन्य संबद्ध कलाओं और मानविकी के क्षेत्र में प्रतिष्ठित व्यक्ति शामिल होते हैं।

DigiKhabar
DigiKhabarhttps://digikhabar.in
DigiKhabar.in हिंदी ख़बरों का प्रामाणिक एवं विश्वसनीय माध्यम है जिसका ध्येय है "केवलं सत्यम" मतलब केवल सच सच्चाई से समझौता न करना ही हमारा मंत्र है और निष्पक्ष पत्रकारिता हमारा उद्देश्य.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments